Saturday, May 26, 2018

भयानक रिपोर्ट : रोहिंग्याओं ने हिन्दुओं का किया था खुलेआम कत्ल

25 May 2018
🚩रोहिंग्या देश के लिए बहुत खतरनाक है उनका मकसद है जनसंख्या बढ़ाना और फिर देश पर कब्जा करने का इसलिए प्रतिदिन हजरों बच्चें पैदा कर रहे है हिंदुस्तानी तो बोलता है हम दो हमारे दो इसमे ही रुक गया है पर रोहिंग्या 40-40 बच्चें तक पैदा करते है इससे साफ जाहिर है कि जनसंख्या बढ़ाकर वोटबैंक खड़ा करके खुद कि सरकार बनाना और भारत पर राज करना है ।
🚩वर्तमान सरकार ने रोहिंग्याओं को बाहर निकालने के लिए बड़ा कदम उठाया था पर न्यायालय ने रोक लगा दी ये बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण है न्यायालय को रोहिंग्याओं के बारे में पूरी जानकारी लेकर न्यायालय को सरकार के फैसले को मान्य रखना चाहिए ।
🚩रोहिंग्या देश के लिए कितने खतरनाक है उसके लिए
मानवाधिकार संगठन ऐमनेस्टी इंटरनेशनल का रिपोर्ट से पता चलता है ।
Horrible report: Rohingyas did openly kill Hindus

बिते साल म्यांमार के रखाइन राज्य में हुई हिंसा के दौरान रोहिंग्या आतंकियों ने गांव में रहने वाले हिंदुओं का कत्लेआम किया। ऐमनेस्टी इंटरनेशनल ने मंगलवार को एक रिपोर्ट जारी कि जिसमें हिंसा के दौरान हुई मौतों के बारे में यह नया खुलासा हुआ है। मानवाधिकार संगठन कि रिपोर्ट में पाया गया है कि यह नरसंहार 25 अगस्त 2017 को हुआ था जिसमें 99 हिंदुओं को मौत के घाट उतार दिया गया। यह वही दिन था जिस दिन रोहिंग्या उग्रवादियों ने पुलिस पोस्ट्स पर हमले किए थे और राज्य में संकट शुरू हो गया था।
🚩उग्रवादियों के हमले के जवाब में म्यांमार कि सेना ने ऑपरेशन चलाया जिसकी वजह से करीब 7 लाख रोहिंग्या मुस्लिमों को इस बौद्ध देश को छोड़कर जाने पर मजबूर होना पड़ा। संयुक्त राष्ट्र ने म्यांमार सेना के ऑपरेशन को रोहिंग्याओं का ‘नस्ली सफाया’ बताया। रोहिंग्या उग्रवादियों पर दुर्व्यवहार के भी आरोप लगे। इसमें रखाइन राज्य के उत्तरी हिस्से में हिंदुओं के नरसंहार का मामला भी शामिल है। बिते साल सितंबर में सेना मीडिया रिपोर्ट्स को इस इलाके में ले गई जहां सामूहिक कब्र मिली।
🚩एएसआरए संगठन के नेता अता उल्लाह (बीच में)
🚩इन उग्रवादियों के संगठन अराकान रोहिंग्या सैल्वेशन आर्मी (ARSA) ने उस समय नरसंहार कि जिम्मेदारी लेने से इनकार कर दिया था। लेकिन ऐमनेस्टी इंटरनैशनल ने कहा कि नई जांच से यह स्पष्ट है इस संगठन ने 53 हिंदुओं को फांसी देकर मार दिया। मरने वालों में अधिकांश खा मॉन्ग सेक गांव के बच्चे थे।
🚩ऐमनेस्टी इंटरनेशनल कि तिराना हसन ने कहा, ‘हमारी ताजा जांच से ARSA द्वारा उत्तरी रखाइन में बड़े पैमाने पर किए गए मानवाधिकारों के दुरुपयोग पर प्रकाश पड़ता है जो मामले अब तक रिपोर्ट नहीं किए गए थे। ये अत्याचार भी गंभीर है।’
🚩इस हिंसा से जान बचाकर भागे 8 लोगों से बातचीत के बाद मानवाधिकार समूह ने कहा कि दर्जनों लोगों को बांध कर आंख पर पट्टी लगाकर शहर में घुमाया गया। 18 साल कि राज कुमार ने ऐमनेस्टी से कहा, ‘उन्होंने पुरुषों का कत्ल कर लिया। हमें उनकी तरफ न देखने को कहा गया…उनके पास चाकू थे। उनके पास लोहे के छड भी थे।’ राज ने कहा कि झाड़ी में छिपकर उसने अपने पिता, भाई, चाचा कि हत्या होते देखा। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि उसी दिन ये बॉक क्यार नाम के एक दूसरे गांव में 46 हिंदू पुरुष, महिलाएं और बच्चे गायब हो गए। स्त्रोत : नवभारत टाइम्स
🚩आपने देखा देश के लिए रोहिंग्या खतरे से खाली नही है फिर भी सेकुलर और मीडिया उनके निकलाने कि बात करते ही छाती पीटने लगती है ।
🚩रोहिंग्यों के लिये आंसू बहाने वाले इस रिपोर्ट पढ़कर क्या अब देश को जवाब देंगे ?
🚩रोहिंग्या शरणार्थीयों को मिलने बांग्लादेश जानेवाली प्रियंका चोपडा क्या अब इस समाचार पर कुछ कहेगी ?
🚩रोहिंग्या देश के लिए क्यों खतरा है?
*🚩1.* शरणार्थियों के #आतंकी #संगठनों से #संबंध है !
*🚩2.* रोहिंग्या न केवल #भारतीय #नागरिकों के अधिकार पर #अतिक्रमण कर रहे हैं अपितु सुरक्षा के लिए भी चुनौती हैं !
*🚩3.* #रोहिंग्या शरणार्थियों के कारण #सामाजिक, #राजनीतिक और #सांस्कृतिक #समस्याएं खड़ी हो सकती हैं !
*🚩4.* इसके पीछे कि एक सोच यह भी है कि भारत के जनसांख्यिकीय स्वरूप सुरक्षित रखा जाए !
🚩मुद्दे कि बात यह है कि जिस तरह से घुसपैठियों ने देश में आकर देश कि जनता को मजहब के नाम पर और खुद कि संख्या ज्यादा करने के लिए मारना शुरू किया है उससे देश में #आतंक #फैल #सकता है जिससे खून खराबे हो सकते हैं जो कि किसी भी देश के लिए सही बात नहीं है ।
🚩भारत सरकार ने रोहिंग्या मुसलमानों को देश से बाहर निकालने का जो निर्णय लिया है वह देश कि सुरक्षा के लिए कितना उचित है इसका अंदाजा सभी भारतीय लगा सकते हैं ।परंतु फिर भी सेक्युलरिस्ट कार्यकर्ता कुछ राजनेता तथा कर्इ धर्मांध जिहादी इन रोहिंग्या मुसलमानों का समर्थन कर उन्हें भारत में शरण मिलने के लिए भारत सरकार पर दबाव डाल रहे हैं । कुछ जिहादी धर्मांधों ने तो यह भी धमकिया दी है कि यदि रोहिंग्या मुसलमानों को कोर्इ हाथ भी लगाएगा तो भारत देश तथा हिन्दुआें को इसके गंभीर परिणाम भुगतने होगे ।
🚩सभी राष्ट्रप्रेमी नागरिकों को अब संगठित होकर भारत सरकार से यह मांग करनी चाहिए कि रोहिंग्या मुसलमानों के साथ साथ अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियो तथा रोहिंग्या मुसलमानों का समर्थन करनेवालों को भी इस देश से बाहर निकाले । नहीं तो यह #लोग #भविष्य में हमारे #अस्तित्व पर ही #संकट ला सकते है इसलिए अभी से #सावधान !!
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

8राज्यों में हिन्दू कब अल्पसंख्यक हो गए पता ही नही चला, मिलेगा अल्पसंख्यक का दर्जा

🚩भारत हिन्दू बाहुल देश है लेकिन विदेशी #आक्रमणकारियों ने आकर #बलपूर्वक या लालच से #धर्मपरिवर्तन करवा दिया वो स्थिति आज भी बनी हुई है देश मे। #ईसाई मिशनरियां लालच देकर और मुस्लिम बलपूर्वक #धर्मपरिवर्तन कराने का प्रयास पुरजोर कर रहे हैं यह हिन्दुओं के लिए चिंताजनक स्थिति बनी हुई है अगर ऐसा आगे भी चलता रहा तो 8 राज्यों कि तरह अन्य राज्यों में भी शीघ्र हिन्दू अल्पसंख्यक हो जाएंगे ।

When 8 Hindus became minor in 8 states,
 they did not know, they would get minority status

🚩भाजपा नेता #अश्विनी उपाध्याय ने उच्चतम न्यायालय में अर्जी दाखिल किया था और देश के आठ राज्यों में हिन्दुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देने कि मांग की है । याचिकाकर्ता अश्विनी उपाध्याय ने कहा कि इन आठ राज्यों में हिंदू अल्पसंख्यक हैं । ऐसे में इन राज्यों में हिन्दुओं को अल्पसंख्यकों वाले अधिकार मिलने चाहिए ।
🚩इन राज्यों में #लक्षद्वीप, #जम्मू-कश्मीर, मिजोरम, #नागालैंड, #मेघालय, #अरुणाचल प्रदेश, #मणिपुर और पंजाब शामिल हैं । याचिकाकर्ता ने 1993 में केंद्र सरकार कि आेर से जारी नोटिफिकेशन को भी असंवैधानिक घोषित करने कि मांग की है ।
🚩याचिकाकर्ता उपाध्याय ने उच्चतम न्यायालय से कहा कि 23 अक्टूबर 1993 में नोटिफिकेशन जारी कर मुस्लिम समेत अन्य समुदाय के लोगों को अल्पसंख्यकों का दर्जा दिया था ।
🚩उपाध्याय ने कहा कि 2011 के जनगणना के आंकड़ों कि मानें तो देश के 8 राज्यों में हिंदू अल्पसंख्यक हैं लेकिन उन्हें इन राज्यों में यह दर्जा अभी तक नहीं मिला है ।
🚩याचिका में कहा गया है कि किसी भी समुदाय के अल्पसंख्यकों का दर्जा सिर्फ उनकी जनसंख्या के आधार पर ही मिलना चाहिए । याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में कानून मंत्रालय को प्रतिवादी बनाया है ।
🚩आंकडों के अनुसार इन सात राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हिन्दू इतने प्रतिशत ही बचे है मिजोरम (2.70%), लक्षद्वीप (2.80%), नागालैंड (8.70%), मेघालय (11.50%), जम्मू-कश्मीर (28.40%), अरुणाचल प्रदेश (29.00%), पंजाब (38.50%) और मणिपुर में (41.40) प्रतिशत है।  तीन राज्यों नागालैंड, मिजोरम और मेघालय में ईसाई बहुसंख्यक होते जा रहे हैं। #जम्मू-कश्मीर और #लक्षद्वीप में #मुस्लिम समुदाय #बहुसंख्यक है। 
🚩 राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने इस संबंध में एक विशेष कमेटी भी गठित की है। यह कमेटी इस मुद्दे पर विचार के लिए 14 जून को एक बैठक करेगी। बैठक में इस मसले पर फैसला लिए जाने कि संभावना है।
🚩 केंद्र सरकार हर साल राज्य सरकारों को अल्पसंख्यकों कि मदद के लिए करोड़ों रुपए कि आर्थिक मदद देती है। मगर इसका लाभ देश के उन आठ राज्यों में नहीं मिल पा रहा है जहां वे सही मायनों में अल्पसंख्यक हैं।
🚩भारत में हिन्दू खत्म किये जा रहे हैं । अगर अब भी हिन्दू नहीं जगे तो हिंदुओं का अस्तित्व समाप्त होता चला जायेगा । #हिन्दुओं के #खात्मे कि बड़ी भयंकर #साजिश रची जा रही है। 
🚩आपको बता दें कि भारत में अधिकतर स्थानों पर #ईसाई पादरी प्रलोभन देकर #धर्मान्तरण करवा रहे हैं दूसरी ओर मुस्लिमों द्वारा जबरन  या लवजिहाद द्वारा धर्मपरिवर्तन कराया जा रहा है अभी भी हिन्दू नहीं जगे तो जैसे #आठ #राज्यों में #हिन्दू #अल्पसंख्यक हो गये है ऐसे ही अन्य राज्यों में भी होने लगेंगे ।
🚩वेटिकन सिटी और इस्लामिक देशों द्वारा भारतीय #मीडिया में भारी #फंडिंग कि जा रही है जिससे वे गरीबी, #श्री राम मंदिर, धारा 370, #गौ-हत्या, महंगाई, किसानों कि #आत्महत्या, जवानों कि हत्या, हिंदुओं पर हो रहे अत्याचार आदि समस्याओं पर बहस नहीं करके केवल हिन्दू #साधु-संतों के #खिलाफ ही खबरें दिखाते हैं और भोले हिन्दू इस बात को सही समझकर उनके ही धर्मगुरुओं पर उंगली उठाते हैं और गलत टिप्पणियाँ करते हैं । जबकि मीडिया ईसाई पादरियों और मौलवियों द्वारा हो रहे कुकर्मो को छुपाता है क्योंकि उनके द्वारा फंडिग की जा रही है।
🚩गौरतलब है कि आजतक जिन्होंने भी हिन्दू धर्म कि हित कि बात की, धर्मांतरण पर रोक लगाई, हिन्दुओं कि घर वापसी करवाई, विदेशी कम्पनियों का बहिष्कार करवाया, पाश्चात्य संस्कृति का विरोध किया उन हिन्दू साधु-संतों एवं कार्यकताओं के खिलाफ सुनियोजित षडयंत्र करके उनकी हत्या करवा दी गई या मीडिया द्वारा बदनाम करवाकर ,राजनेताओं से मिलकर जेल भिजवा दिया गया ।
🚩हिन्दुआें कि जो स्थिति आज इन 8 राज्यों में है वह स्थिति बाकि राज्यों में ना हो इसलिए हिन्दुआें को जागृत होकर स्वयं का अस्तित्व बचाने हेतु अब संगठित होना होगा ।
🚩इसपर हिन्दू जनजागृति के कुछ सूत्र भी ध्यान में लेना चाहिए…
*🚩1.* हिन्दुआें को अल्पसंख्यक का दर्जा देने के साथ-साथ इन राज्यों में हिन्दुआें कि संख्या क्यों कम हो रही है ? इसकी भी जांच होनी चाहिए । क्योंकि पहले वहां हिन्दू बहुसंख्यंक थे ।
*🚩2.* कश्मीर कि स्थिति तो सभी को ज्ञात ही है ।
कैसे वहां हिन्दुआें का नरसंहार किया गया ? कैसे वहां से हिन्दुआें को अपना घर-जमीन छोडने के लिए मजबूर किया गया, कश्मीर के बाद देश के कर्इ राज्यों में हिन्दू स्वयं को बचाने हेतु पलायन कर रहे हैं जिसका उदाहरण है उत्तरप्रदेश का कैराना गांव !
*🚩3.* आज हिन्दुआें के सामने धर्मांतरण, लव जिहाद, मंदिर सरकारीकरण जैसे कर्इ संकट है एेसे में उन्हे केवल अल्पसंख्यक का दर्जा देना पर्याप्त नही है ।
*आप क्या कर सकते हैं..???*
*🚩1.* जहां से हिन्दुआें को अपना घर-जमीन छोड़कर पलायन करने पर मजबूर किया गया है वहां हिन्दुआें को फिर से बसाने के लिए सरकार से निवेदन द्वारा मांग करें ।
*🚩2.* जहां हिन्दुआें काे डरा धमकाकर एवं लालच देकर धर्मान्तरित किया जाता है उसे रोकने के लिए प्रशासन को निवेदन दें ।
*🚩3.* हिन्दुआें कि यह दु:स्थिति बाकि के हिन्दुआें तक पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग करें तथा हिन्दुआें में जागृति फैलाए ।
*🚩4.* धर्मशिक्षा का अभाव यह भी हिन्दुआें कि इस दु:स्थिति का कारण है इसलिए उन्हे धर्मशिक्षा दें । 
🚩हिन्दू आज एकजुट होकर इन षडयंत्रों का विरोध नहीं करेंगे तो एक के बाद एक हिन्दुओं को नष्ट कर दिया जायेगा और हिन्दू अल्पसंख्यक होते जायेंगे ।
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt
🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

Thursday, May 24, 2018

ईसाई मिशनरियां नही आ रही है बाज, जबरन बना रहे है ईसाई

24 May 2018

🚩ईसाई मिशनरियां भारत में इतनी सक्रिय है कि शाम-दाम-दंड-भेद कि नीति अपनाकर हिन्दुओं का धर्मपरिवर्तन करवाया जा रहा है । 

🚩रोमन केथोलिक चर्च का एक छोटा राज्य है जिसे वेटिकन बोलते है । अपने धर्म (ईसाई) के प्रचार के लिए वे हर साल​ करीब 17 हजार करोड़ डॉलर खर्च करते है ।
Christian missionaries are not coming,
forcibly evangelical Christian


🚩भारत में जनसंख्या अधिक है और जनता भोली भी है इसलिए ईसाई मिशनरियों की चाल समझ नही सकती इसलिए उनके बहकावे में आकर धर्मपरिवर्तन कर लेती है। 

🚩वेटिकन सिटी का एक बड़ा टारगेट है जो भारत देश को एक ईसाई देश बनाना चाहता है जिसके कारण वे अपनी वोटबैंक खड़ी करके खुद कि सरकार बना सके और फिर से भारत को गुलाम बना सके पर इनके आड़े जो भी हिंदुनिष्ठ या साधु-संत आते है उनकी या तो हत्या कर दी जाती है या मीडिया द्वारा बदनाम करके जेल भिजवाया जाता है ।

🚩अभी यूपी के मेरठ से जबरन धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है।  अतरौली के डीडीयू जीकेवाई इंस्टिट्यूट ट्रेनिंग सेंटर के संचालकों ने वहां पढ़ने वाली छात्राओं पर ईसाई धर्म अपनाने का दबाव बनाया। इस मामले में छात्राओं ने एसपी ग्रामीण को लिखित शिकायत दी है। 

🚩ट्रेंनिग सेंटर में पढ़ने वाली छात्राओं ने बताया कि ईसाई बन कर नहीं पढ़ने पर लड़कियों को कॉलेज से निकाल दिया गया। छात्राओं का कहना है कि इंस्टिट्यूट चलाने वालों ने कहा कि ईसाई बन जाओ और गले में ईसाई धर्म का लॉकेट पहनकर क्लास में आना है और कोई भी बाहर से चेकिंग करने आता है तो अपने आपको  ईसाई बताना। करीब ऐसी दो दर्जन लड़कियां हैं जिनको ट्रेनिंग के नाम पर ईसाई बनाया जा रहा है।

🚩बताया जा रहा है कि इंस्टिट्यूट में ईसाई इसलिए बनाया जा रहा है कि यहां ओबीसी और जनरल कि सीट नहीं है। यहां एससी कि सीटें खाली है इंस्टीट्यूट के लोग चाहते हैं कि यहां ट्रेनिंग करने वाले धर्म बदल कर पढ़ाई करें। छात्राओं का कहना है कि अगर उन्हें ईसाई कि जरूरत है तो हमारा धर्म परिवर्तन क्यों करा रहे हैं। अतरौली के गोधा रोड स्थित इस इंस्टिट्यूट में होटल मैनेजमेंट, बिजनेस बैंकिंग सहित कई कोर्सेज में प्रशिक्षण दिया जाता है। यहां स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत प्रशिक्षण दिया जाता है। छात्राओं का कहना है कि ट्रेनिंग सेंटर के मैनेजर उनसे अभद्रता भी करते हैं। जिसेक चलते कई छात्राओं ने प्रशिक्षण बीच में ही छोड़ दिया। धर्म और जाति के नाम पर यहां बरगलाया जाता है। छात्राओं ने एक लिखित तहरीर एसपी ग्रामीण को दी है। एसपी ग्रामीण ने पूरे मामले कि जांच क्षेत्राधिकारी अतरौली को दिया और करवाई का भरोसा दिलाया ।  स्त्रोत : न्यूज़ 18

🚩आपने पढ़ा ईसाई धर्म कितना खतरनाक है जबरन धर्मपरिवर्तन तो करवाते ही है साथ मे लड़कियों से छेड़छाड़ी भी करते है जिसके कारण लड़कियों को पढ़ाई भी छोड़नी पड़ रही है सनातन हिन्दू धर्म में तो स्त्री का बड़ा सम्मान है बड़ी को मां समान, समकक्ष को बहन समान और छोटी को बेटी समान माना जाता है और यहाँ तक नारी को देवी तुल्य माना जाता है नारी तू नारायणी बोला जाता है  और ईसाई धर्म बहन-बेटियों को बुरी नजर से देखने  कि इजाजत देता है?

🚩साईं तो 2018 साल पुराना है, मुस्लिम धर्म 1450 साल पुराना है लेकिन सनातन हिन्दू धर्म जबसे सृष्टि का प्रारंभ हुआ है तबसे है ।  ईसाई धर्म कि स्थापना यीशु ने की, मुस्लिम धर्म कि स्थापना मोहम्मद पैंगम्बर ने की लेकिन सनातन धर्म कि स्थापना किसी देवी-देवता या ऋषी-मुनियों ने नही की बल्कि ये सनातन धर्म सृष्टि उद्गम होते ही आया है सनातन धर्म ही सर्वश्रेष्ठ है इसमे भी भगवान श्री राम, भगवान श्री कृष्ण, ऋषि-मुनियों का अवतार हुआ है और दुनिया मे जितनी खोजे है वे भी भारत के ऋषि-मुनियों ने ही दिया है। सर्वे भवन्तु: सुखिनः भी सनातन धर्म ने ही चरितार्थ करवाया है।  सनातन धर्म कि महिमा इतनी महान है कि पृथ्वी को कागज और समुद्र को स्याही और सभी पेड़ो कि कलम बनाकर लिखा जाए तो भी पूरी नही हो सकती ।

🚩इतना महान सनातन धर्म को मिटाने के लिए अनेक षड्यंत्र चल रहे है इसमे मुख्य भूमिका ईसाई मिशनरियों कि है इनसे सभी हिन्दू बचकर रहें ।

🚩भारत में चलने वाली मीडिया में 90% फंडिग विदेशों से होती है इसलिए ईसाई धर्मान्तरण रोकने के लिए हिन्दू साधु-संत बीड़ा उठाते है तो उनके ऊपर ही मीडिया द्वारा इतने लांछन लगा दिए जाते है कि जिसके कारण समाज उनके प्रति नफरत करने लगता है। जैसे कि विवेकानंद जी को इन लोगो ने इतना बदनाम किया कि उनके गुरुजी कि समाधि के लिए दो गज जमीन भी नही दे रहे थे ।

🚩वर्तमान में भी ओड़िसा में लक्ष्मणानंद जी की हत्या करवा दी, जयेंद्र सरस्वती जी को झूठे केस में जेल भिजवा दिया था और हिन्दू संत आसाराम बापू को छेड़छाड़ी के झूठे केस में उम्रकैद करवा दी क्योंकि उनको अभी सबसे ज्यादा रोड़ा बन रहे थे बापू आसारामजी ।

🚩भारतवासियों को अब जागना होगा और इनके खिलाफ आवाज उठानी होगी नही तो एक के बाद एक को खत्म करके देश को गुलामी कि जंजीरों में जकड़ लेंगे ।

🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻


🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk


🔺 Twitter : https://goo.gl/kfprSt

🔺 Instagram : https://goo.gl/JyyHmf

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ