Sunday, May 21, 2017

मीडिया की झूठी खबरों से गुमराह होकर कवियों ने बापू आसारामजी के लिए बोला गलत,अब मांगी माफी

 मीडिया की झूठी खबरों से गुमराह होकर कवियों ने बापू आसारामजी के लिए बोला गलत,अब मांगी माफी

 #जोधपुर जेल में 4 साल से बिना सबूत हिन्दू संत बापू #आसारामजी बंद हैं। अब तक उनके खिलाफ #मीडिया ट्रायल खूब चला है, मीडिया ने #टीआरपी और #पैसे के चक्कर मे उनके खिलाफ झूठी कहानियां बनाकर खूब दिखाई और उसी को सच मानकर कई #कवि और #कवयित्रियों ने उनके खिलाफ मजाक करते हुए बोला लेकिन जब उनको सच्चाई का पता चला तो उन्होंने माफी मांगते हुए #वीडियो जारी किया ।

आइये आपको बताते है क्या कहा कवि और कवयित्रियों ने...
Poets apologized for Bapu Asharamji

 #कवित्री #पूनम वर्मा - अभी अभी संज्ञान में आया है  Youtube पर, मेरी किसी वीडियो में कुछ संत आसारामजी बापू का मजाक बनाया गया है । उपहास किया गया है । "मेरा उद्देश्य किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था लेकिन जाने अनजाने में मेरे शब्दों से किसी की भावनाओं को ठेस पहुंची हो तो उसके लिए मैं हृदय से खेद व्यक्त करती हूँ । हाथ जोड़ कर क्षमा चाहती हूँ "।

 #कवि #संपत सरल - मेरी किसी एक कवि #सम्मेलन प्रस्तुति को किसी मूर्ख ने कट पेस्ट करके इस तरह से दुरुपयोग किया और उसको संत आसारामजी बापू के चरित्र के साथ जोड़ दिया । हम हास्य  कवि लेखक है परिहास करते है उपहास नहीं करते । वैसे भी लेखक प्रवृति पर होता है व्यक्ति पर नहीं होता । "जाने अनजाने मेरे उस वक्तव्य से जो मैंने गलती की भी नहीं है अगर किसी आदमी की संत #आसारामजी बापू के भक्तों की भावनाओं को आहत हुई हो उसके लिए खेद व्यक्त करता हूँ उसके लिए क्षमा याचना करता हूँ और भविष्य में  इसकी पुनरावृति नहीं होगी इस बात का आपको भरोसा दिलाता हूँ हरि ॐ" ।

कवि शम्भू शिखर - दिल्ली के कार्यो की वीडियो you tube पर,जिसमें कि आसारामजी बापू की हँसी मजाक मेरी ओर से कविताओं में कही गई ।जिस कारण से बहुत सारे भक्तों का दिल दुःखा और बहुत भक्तों को तकलीफ हुई । मेरा #मकसद किसीका दिल दुखाना या किसीको तकलीफ देना नहीं था न है । ये अज्ञानतावश मैंने ऐसा किया । "आप सभी से किसी भाई-बहन साधकों को अनुयायियों को तकलीफ हुई हो मैं उन सब से क्षमा मांगता हूँ और आप सब से वादा करता हूँ आगे मेरे द्वारा संत आसारामजी बापू पर किसी भी प्रकार की कोई टिप्पणी नहीं आएगी जिस किसी भाई का दिल मेरी वजह से दुखा उसके लिए मैं क्षमा प्रार्थी हूँ और उम्मीद करता हूँ आप सबका प्रेम मुझ तक ऐसे ही अविरत पहुंचता रहेगा" ।
 #डॉ. सुरेश अवस्थी - अभी अभी संज्ञान में आया कि मैंने किसी कवि सम्मेलन में कोई ऐसा शब्द,कोई ऐसी पंक्ति पढ़ी है जिससे संत आसारामजी बापू के समर्थको और उनके भक्तों को ठेस पहुंची है । उनका मन आहत हुए है । उन्हें लगा है कि उन शब्दों से संत श्री की अवमानना हुई है। यदि मेरे द्वारा ऐसा कोई शब्द कोई टिप्पणी कविता की कोई पंक्ति प्रयुक्त की गई है जिससे संत श्री आसारामजी बापू के भक्त आहत हुए हैं, उनकी आस्था को चोट पहुंची है या उन शब्दों में कोई संत श्री की अपमानता प्रतीत होती है तो "मैं उसके प्रति भावी मन से खेद व्यक्त करता हूँ मुझे क्षमा करें और मैं ये भविष्य में सचेतता बरतूँगा, ध्यान रखूंगा कि कहीं कोई ऐसी टिप्पणी ऐसी पंक्ति ऐसी कविता मेरे द्वारा प्रस्तुत न की जाए जिससे संत श्री आसारामजी  बापू के भक्तों को दिक्कत हो उन्हें कोई #ठेस पहुँचे या किसी व्यक्ति विशेष को या कोई प्रतीत हो कि उसकी अवमानना की जा रही है मैं इसका पूरा ख्याल रखूंगा खेद क्षमा धन्यवाद"|

कवित्री #अनामिका जैन अम्बर - मैं कवित्री अनामिका जैन अम्बर ये स्वीकारती हूँ कि पूज्य संत श्री आसारामजी बापू के संदर्भ में मुझसे थोड़ा तिपुन दोहा बोला गया है । जब मैंने ये पंक्तियां कही थी तब ये नया विवाद इनके चरित्र को लेकर लगा था प्रथम #दृष्ट्या मुझे ऐसा लगा था कि मेरे अपने धर्म का चोला पहन किसी अपने व्यक्ति ने हमें छल लिया । ये ऐसा था जैसे किसी बच्चे ने अपनी माँ को छला हो ।किन्तु उसके बाद ऐसे साक्ष्य सामने आये जिनमें भान हुआ कि ये एक बड़ा #षड्यंत्र है । हमारे हिंदुओं के साधुओं के प्रति संतों के प्रति। मेरी कलम ने हमेशा माँ भारती की वंदना की है धर्म का मन रखा है । मुझसे जो हुआ वो वास्तव में गलत है मेरी पंक्तियों से पूज्य श्री के अनुयायियों की भावनाएं आहत हुई हैं । "मैं उनसे करबद्ध क्षमा प्रार्थी हूँ आप सब की साक्षी हूँ" भविष्य में कभी किसी #हिन्दू #संत के प्रति ऐसे शब्द जो किसीका हृदय दुखाये नहीं कहूंगी एक आग्रह और करती हूं आप सब से कि उस वीडियो को आप वायरल न करें उसे हमने अपलोड नहीं किया है । जिस चैनल से अपलोड किया गया है उनसे भी निवेदन है कि नेट से उसे हटा दें मेरी कलम आप सभी के साथ से बलशाली हुई है अतः अपना स्नेह बनाये रखे "|

 #डॉ. #सुनील जोगी - मैं आप सब से अपील करता हूँ बहुत से कार्टूनीय पत्रकार कुछ ऐसे हैं जो आसारामजी बापू के विषय में अशोभनीय बातें करते हैं । वो उचित नहीं है बहुत से लोग मुझे फ़ोन करते है । बहुत से उनके भक्त है, उनके अनुयायी है,उनके चाहनेवाले है उनका हृदय दुखता है #बापूजी पर अभी कोई आरोप सिद्ध नहीं हुआ है केवल अदालत में मामला है ।  जब तक आरोप सिद्ध नहीं हो जाता हमें किसी भी संत पर इस तरह की टिप्पणियां नहीं करनी चाहिए । इससे हमारे #धर्म को क्षति पहुंचती है। नुकसान होता है । किसी भी वर्णीय बड़े संत को और आसारामजी  बापू का बड़ा योगदान रहा है उनके करोड़ो शिष्य हैं, #भक्त हैं,  उनका #हृदय दुखता है तो आप सबका कोई अधिकार नहीं कि आसारामजी बापू के लिए अपमान जनक शब्द इस्तेमाल करें या उनके प्रति कोई अशुभ टिप्पणी करें जिससे उनके भक्तों का,उनके माननेवालों का उनके फोल्लोवेर्स का दिल दुखे । इसलिए मेरी आप सब से अपील है कि इस मामले में कुछ भी ऐसी #टिप्पणी न करें। मेरा अनुरोध आप सब स्वीकार करेंगे तो मुझे खुशी होगी ।

अब एक सवाल उठता है कि #मीडिया क्यों बिना सबूत ही  हिन्दू संतो के खिलाफ बोलती रहती है?

क्या उनको इतनी #स्वतन्त्रता दी गई है कि बिना सबूत कुछ भी दिखा सकते हैं ???

जबकि सच्चाई ये है कि किसी भी पादरी या मौलवी के लिए सबूत होने के बाद भी मीडिया दिखाती नहीं है और हिन्दू संतो के खिलाफ बिना सबूत ही जहर उगलती रहती है।

इससे सिद्ध हो जाता है कि वेटिंकन सिटी और सऊदी अरब से हिन्दू संतों और  हिन्दू कार्यकर्ताओं को बदनाम करने का भारी फंडिग मिलता है मीडिया को ।

अतः #देशवासी #विदेशी #फंडिग से चलने वाली मीडिया से सावधान रहें ।

जय हिंद

🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻

🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk


🔺 Twitter : https://goo.gl/he8Dib

🔺 Instagram : https://goo.gl/PWhd2m

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺Blogger : https://goo.gl/N4iSfr

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

   🚩🇮🇳🚩 आज़ाद भारत🚩🇮🇳🚩

No comments:

Post a Comment

देश पर अंग्रेजों द्वारा लादा गया झूठा लोकतंत्र हटाना ही पड़ेगा : श्री. रमेश शिंदे

देश पर अंग्रेजों द्वारा लादा गया झूठा लोकतंत्र हटाना ही पड़ेगा : श्री. रमेश शिंदे जून 27, 2017  अखिल भारतीय हिन्दू अधिवेशन में हि...