Tuesday, April 25, 2017

निर्दोष साध्वी प्रज्ञा को 9 साल में जमानत, रेप के आरोपी प्रजापति को 40 दिन में ही जमानत क्यों?

🚩निर्दोष साध्वी प्रज्ञा को 9 साल में जमानत, रेप के आरोपी प्रजापति को 40 दिन में ही जमानत क्यों?

🚩2008 मालेगांव बम विस्फोट में साजिश रचने की बनाई गई आरोपी #साध्वी_प्रज्ञा_सिंह ठाकुर को मंगलवार (25 अप्रैल) को मुंबई उच्च न्यायालय में न्यायमूर्ति रंजीत मोरे और न्यायमूर्ति शालिनी फनसाल्कर जोशी की खंड पीठ ने कहा, ‘साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की अपील को मंजूरी दी जाती है । याची (साध्वी) को पाँच #लाख रुपये की जमानत पर रिहा करने का निर्देश दिया जाता है।  प्रसाद पुरोहित की ओर से दायर अपील को खारिज किया जाता है ।’ 
conspiracy against india

🚩 #न्यायमूर्ति मोरे ने आदेश में कहा है कि पहली नजर में साध्वी के खिलाफ कोई मामला नहीं बनता है ।

🚩एनआईए जाँच एजेंसी के मुताबिक, विस्फोट को दक्षिणपंथी संगठन अभिनव भारत ने कथित तौर पर अंजाम दिया था और पुरोहित और प्रज्ञा सहित कुल 11 लोग इस मामले में अभी #जेल में हैं ।

🚩एनआईए ने पुरोहित की जमानत की अर्जी का विरोध किया ।

🚩पुरोहित ने दलील दी थी कि एनआईए कुछ आरोपियों को आरोपमुक्त करने में भेदभाव कर रही है और एजेंसी ने उसे मामले में बलि का बकरा बनाया है ।

🚩जब #एनआईए ने साफ कह दिया है कि दक्षिणपंथी संगठन ने मालेगांव ब्लास्ट किया है फिर कर्नल पुरोहित को क्यों जमानत देने का विरोध कर रही है?

🚩गौरतलब है कि 29 सितंबर 2008 को #मालेगांव में एक बाइक में बम लगाकर विस्फोट किया गया था जिसमें आठ लोगों की मौत हुई थी और तकरीबन 80 लोग जख्मी हो गए थे। साध्वी और पुरोहित को 2008 में गिरफ्तार किया गया था और तब से वे जेल में हैं।

🚩अब जनता सवाल कर रही है कि भयंकर यातनाऐं देकर 9 साल से साध्वी प्रज्ञा को जेल में रखा गया, रीढ़ की हड्डी तोड़ दी गई, जेल में कैंसर हो गया और अब एनआईए और न्यायालय बोलता है कि उनके खिलाफ कोई मामला बनता नही है, तो 9 साल से जो साध्वी प्रज्ञा जी को बिना सबूत #जेल में रखा, उनका जो समय गया, उनका स्वास्थ्य गया वो क्या न्यायालय लौटा पायेगा? 

मीडिया ने उनकी जो खूब बदनामी की क्या वो इज्जत मीडिया दोबारा लौटा पायेगी ?

🚩ऐसे ही कुछ समय पूर्व स्वामी #असीमानन्द को 8 साल के बाद जेल से रिहा किया गया उनको भी बिना सबूत ही जेल में रखा गया था ।

🚩लेकिन वहीं दूसरी ओर #उत्तर प्रदेश में सपा सरकार के दौरान कैबिनेट मंत्री गैंग रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति को 40 दिन के बाद आज (25 अप्रैल) को लखनऊ की पॉस्को कोर्ट ने जमानत दे दी है। पूर्व मंत्री के अलावा अन्य 2 आरोपी को भी जमानत दी है।

🚩महिला ने #गायत्री_प्रजापति पर आरोप लगाया है कि उसके साथ #गैंगरेप और नाबालिक बेटी के साथ भी यौन शोषण किया। प्रजापति और 6 अन्य लोगों के ख‍िलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ था। गायत्री को 15 मार्च 2017 को गिरफ्तार किया गया था 25 अप्रैल को जमानत मिल गई ।

🚩वहीं दूसरी ओर केवल छेड़छाड़ी के आरोप में हिन्दू संत बापू आसारामजी 4 साल से जेल में बन्द है, जबकि उनको मेडिकल में क्लीनचिट भी मिल चुकी है और कॉल डिटेल्स से भी पता चला है कि जिस समय #छेड़छाड़ी का आरोप लगाया है उस समय तो वो अपने किसी मित्र से फोन पर बात कर रही थी और बापू आसारामजी भी किसी अन्य कार्यक्रम में व्यस्त थे और उनको षडयंत्र के तहत फंसाने के सैकड़ों सबूत भी मिले हैं लेकिन फिर भी जमानत क्यों नही मिल पा रही है???

क्या कानून सबके लिए समान है...???


🚩क्यों नेता, अभिनेता, अमीरों को शीघ्र जमानत दी जाती है लेकिन हिंदुस्तान में ही हिन्दू संत #बापू #आसारामजी को 4 साल से और अन्य संतों और कार्यकर्ताओं को क्यों जमानत नहीं दी जा रही है ??

क्या यही हमारी उत्तम न्याय व्यवस्था है..???

🚩देश के 9000 हजार करोड़ लेकर भागने वाले #विजय_माल्या को तो केवल 3 घण्टे में ही जमानत मिल गई ।

🚩इन निर्दोष हिन्दू #साधु-संतो के खिलाफ एक भी सबूत नहीं है फिर भी इनको सालों से जेल में रखा जा रहा है, #मीडिया द्वारा खूब बदनामी की जाती है।

 आखिर ऐसा क्यों ???

🚩क्या इनका यही गुनाह है कि इन्होंने धर्मान्तरण पर रोक लगाई और गाँव-गाँव, नगर-नगर जाकर #देश-विदेश में हिन्दू संस्कृति का प्रचार प्रसार किया । जनता में राष्ट्र भक्ति जगाई ।

🚩क्या इनका यही गुनाह था कि इन्होंने विदेशी कंपनियों से लोहा लिया और लोगों को #स्वदेशी की ओर मोड़ा।

🚩क्या इनका यही गुनाह था कि विदेशी कल्चर का #बहिष्कार करवाया और भारतीय संस्कृति की ओर आकर्षित किया ।

🚩या ये गुनाह है कि इन्होंने अनेक गौशालायें खुलवाकर #कत्लखाने जाती गायों को बचाया और लोगों को गाय माता को बचाने के प्रति जाग्रत किया ।

🚩लगता है इनका #हिन्दू_संत होना ही सबसे बड़ा गुनाह है क्योंकि इस देश में सिर्फ हिन्दू #संतों और कार्यकर्ताओं से ही उनके मौलिक अधिकार छीन लिए गए हैं। 

🚩एक बात तो पक्की हो गई कि जो भी हिंदुत्वनिष्ठ आगे आकर हिन्दू संस्कृति के प्रचार प्रसार में लगेगा उन पर #राष्ट्रविरोधी तत्वों द्वारा ऐसे ही हमला होगा ।

🚩अब हिन्दू का जगने का समय आ गया है। हिन्दुत्वनिष्ठों के साथ हो रहे अन्याय पर अब हिन्दू चुप नहीं बैठेगा ।

🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻

🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk

🔺Facebook : https://goo.gl/immrEZ

🔺 Twitter : https://goo.gl/he8Dib

🔺 Instagram : https://goo.gl/PWhd2m

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺Blogger : https://goo.gl/N4iSfr

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

   🚩🇮🇳🚩 आज़ाद भारत🚩🇮🇳🚩

No comments:

Post a Comment

गंगा दशहरा प्रारम्भ : 26 मई, समाप्त : 4 जून

मां गंगा की महिमा गंगा दशहरा प्रारम्भ : 26 मई, समाप्त : 4 जून गंगा नदी उत्तर भारतकी केवल जीवनरेखा नहीं, अपितु हिंदू धर्मका सर्वोत...