Sunday, April 9, 2017

जोधपुर जेल में बापू आसारामजी से मिलने पहुंचे डीजी वंजारा

जोधपुर जेल में बापू आसारामजी से मिलने पहुंचे डीजी वंजारा

9 अप्रैल 2017

जोधपुर में गुजरात के पूर्व आईपीएस अधिकारी डी. जी वंजारा जी का शनिवार को स्वागत समारोह था उसमें उनका भव्य स्वागत किया गया और विशाल बाइक रैली निकाली गई ।
DG Vanzara Met Asaram Bapu

वे शनिवार स्वागत समारोह खत्म होने के बाद भी एक दिन रुके। वे वहां इसलिए रुके क्योंकि उनको 43 महीनों से जेल में बंद बापू आसारामजी से मिलना था ।

वे रविवार शाम को हिन्दू संत आसारामजी बापू से  मिले और उन्होंने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि कल मैं जोधपुर में सूर्यनगरी हार्दिक अभिनंदन समिति की ओर से जो जाहिर सन्मान का कार्यक्रम रखा गया था उस कार्यक्रम के संदर्भ में मैं जोधपुर आया था । कल बाइक रैली थी और टाउन हॉल में सन्मान समारम्भ हुआ । जोधपुर के लोगों ने बहुत उमंग और उत्साह दिखाया । मैं जोधपुर के लोगों को,मित्रो को,साथियों को दिल से धन्यवाद देता हूँ ।

आज मैं स्पेशली इसलिए रुका था कि संत श्री आसारामजी बापू जोधपुर जेल में हैं । आज मैं उनके दर्शन करने के लिए गया था । उनके दर्शन हुए, उनसे  बातचीत हुई । मैंने उनके स्वास्थ्य के विषय में पूछताछ की । उनकी उम्र 81 साल की है इस कारण से स्वास्थ्य अच्छा नहीं रहता है, ये एक चिंता का विषय है । इस विषय पर चर्चा हुई है और ये जो केस है इस केस के विषय में भी चर्चा हुई है । 

बापूजी के खिलाफ जो केस दर्ज हुए हैं । यहाँ का, जो जोधपुर का केस है वो केस झूठा है वो मैं पहले से ही कह चुका हूँ । इसका investigation भी झूठा है और इसका जो evidence कलेक्शन हुआ है चार्जशीट कलेक्शन हुआ है वो भी झूठा है ।
  

गुजरात गांधीनगर में जो दूसरा केस दर्ज है वो भी 12 साल के बाद,वो केस दर्ज हुआ था वो केस भी झूठा था । एक साजिश एक conspiracy संत आसारामजी बापू के खिलाफ चल रही है । उस साजिश के अंतर्गत दूसरे केस दर्ज किये गए हैं और एक बहुत बड़ा अन्याय और अत्याचार हिंदुस्तान के महान स्तंभ संत के ऊपर हो रहे हैं । इस बात की मुझे बहुत पीड़ा है ।

वंजारा जी ने ये भी कहा कि हम संत आसारामजी बापू का केस लोक अदालत में ले जाएंगे और निर्दोष महान संत आसारामजी बापू को न्याय दिलाकर ही रहेंगे ।

मीडिया द्वारा राजनीति में आने को लेकर पूछे गए प्रश्न पर उन्होंने कहा कि मैं लोगों के संपर्क में हूँ और जरूरत पड़ी तो राजनीति में भी आऊंगा ।

गौरतलब है कि इससे पहले भी श्री अशोक सिंघल जी से मिलने पर उन्होंने कहा था कि ये विदेशी फंड से चलने वाली भारतीय मीडिया संत आसारामजी बापू का दुष्प्रचार कर रही है और संत आसारामजी बापू ने विदेशी कंपनियों और धर्मान्तरण पर रोक लगाई जिसके कारण उनको जेल भेजा गया है ।


सुदर्शन न्यूज चैनल के चैयरमेन श्री सुरेश चव्हानके भी संत आसारामजी बापू को मिलने जेल में गए थे उनका भी कहना था कि बापूजी ने हिन्दू धर्म का प्रचार-प्रसार विश्वभर में किया है इसलिए उनको जेल भेजा गया है ।

भाजपा नेता ड़ॉ. सुब्रमण्यम स्वामी भी कई बार बापू आसारामजी से मिलकर आये हैं । उन्होंने भी कहा कि मैंने पूरा केस पढ़ा है,पूरा केस ही बोगस है , जिस समय लड़की बोल रही है कि मेरे साथ छेड़खानी की गई उस समय तो वो अपने दोस्त से फोन पर बात कर रही थी और मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर भी संत आसारामजी बापू को क्लीनचिट मिल चुकी है। स्वामी जी का कहना है कि आसारामजी बापू ने धर्मान्तरण पर रोक लगाई है इसलिए वेटिंकन सिटी में नाराजगी आई और उन्होंने सोनिया गांधी को बोला और सोनिया गांधी के इशारे पर ये केस हुआ और बापू को जेल भिजवाया गया।

अब हिंदूवादी सरकार आने पर भारत की जनता की निगाहें टिकी है कि कब हिन्दू धर्म के आधार स्तम्भ निर्दोष बापू आसारामजी को कब मिलेगा न्याय...???

No comments:

Post a Comment

मुस्लिम धर्म से परेशान होकर मुस्लिम परिवारों ने अपनाया हिन्दू धर्म

मुस्लिम धर्म से परेशान होकर #मुस्लिम परिवारों ने अपनाया #हिन्दू धर्म उत्तर प्रदेश के फैजाबाद में अपने ही #धर्म के लोगों से परेशान ह...