Friday, April 14, 2017

अन्तर्राष्ट्रीय षड़यंत्र : वन्दे मातरम् गाने पर किया कैरियर हुआ बर्बाद

🚩अन्तर्राष्ट्रीय षड़यंत्र : वन्दे मातरम् गाने पर किया कैरियर बर्बाद
🚩छात्र ने कहा - बाइबिल नहीं वन्दे मातरम् गाऊँगा .. बस फिर क्या था !!
उसकी जिंदगी और कैरियर दोनों हो गए तबाह !!
🚩ये कृत्य बहुत पहले से चल रहा था । उसे सब जानते थे । कानून मंत्रालय भी और शिक्षा मंत्रालय भी। सब आँख मूँद कर देख रहे थे पर इसका विरोध करने की हिम्मत नहीं की । जब एक छात्र ने हिम्मत की तो उसकी जिंदगी और कैरियर को कर डाला बर्बाद ।
vandematram controversy

🚩मामला इलाहाबाद के नैनी क्षेत्र स्थित शियाट्स कालेज का है। वहां बहुत पुराना नियम है कि वहां प्रार्थना हमेशा बाइबिल की करवाई जाती है। काफी लम्बे समय से ये सब वहां चलता आ रहा है ।कभी किसी ने इसके खिलाफ आवाज नहीं उठाई, भले ही वो किसी धर्म,पंथ या मजहब से रहे हो , वो चुपचाप बाइबिल गाते रहे । अचानक कुछ लोगों को बदले परिवेश और माहौल में ये कार्य थोड़ा उचित नहीं लगा।उन्होंने सोचा कि एक वर्ग भर को सम्बोधित करने वाली बाइबिल के बजाय यहाँ सम्पूर्ण भारत को सम्बोधित करता हुआ वन्दे मातरम् का गान होना चाहिए और इसी आशा और उम्मीद के साथ एक PHD छात्र अभय ने कालेज प्रबंधन को प्रार्थना पत्र दे दिया ।
🚩उसमें निवेदन था कि कृपया भारत की सीमा के अंदर आने वाले इस विश्व विद्यालय में बाइबिल के बजाय वन्दे मातरम् करवाई जाएँ । कालेज प्रबंधन उस प्रार्थना पत्र को पाते ही आग बबूला हो गया और सीधे उस छात्र को बुलाते हुए कहा कि ये सब यहाँ नहीं चल सकता और अगर तुम्हारे ऊपर ज्यादा ही देशभक्ति सवार है तो उसका इलाज हम कर देते हैं । अगले दिन उस छात्र के हाथ में निलंबन का लेटर पकड़ा कर कहा गया कि आगे की पढ़ाई वहां से करो जहाँ तुम्हारा वन्देमातरम चलता हो ।
🚩अभय अपना कैरियर और जीवन तबाह होता देख कर एक बार तो चकरा गया पर उसकी एक भी दलील सुनने को शियाट्स कालेज प्रबंधन तैयार नहीं था । हार कर ये बात उसने अपने अन्य साथियों को बताई तो काफी दिन से दबा कुचला छात्र वर्ग आंदोलित हो उठा और अपने मित्र अभय की बहाली की मांग करने लगा । पर कालेज प्रशासन जरा सा भी झुकने को तैयार नहीं हुआ । अंत में वो छात्र अपने मित्र छात्रों के साथ इलाहाबाद के जिलाधिकारी से मिला और अपने लिए न्याय माँगा ..
🚩छात्र अभय का कहना है कि अभी तक कालेज या इलाहाबाद प्रशासन ये नहीं बता पाया कि उसे किस बात की सजा मिली है ?
🚩ये प्रश्न अभय का ही नही वरन् हर भारतवासी का है ।
क्यों हिंदुस्तान में ही हिंदुओं को दबोचा कुचला जाता है ???
🚩क्या एक छात्र को अपनी बात रखने का भी अधिकार नहीं है ?
क्योंकि वो बात किसी पंथ के लिए न कहकर भारत माता के लिए कही गई है ।
🚩क्या देश में रहने वाले हर भारतवासी का कर्तव्य नहीं बनता कि वो भारत माता का सम्मान करें ???
🚩ये घटना राष्ट्र के अंदर चल रही एक बहुत बड़ी आतंरिक षड्यंत्र को चिन्हित करती है जिसका सीधा सम्बन्ध उन छात्रों से है जिन्हें डाक्टर , इंजीनियर या कुछ और बनने से पहले अपने धर्म या मजहब के लिए समर्पण करवाया जा रहा है वो भी जबरदस्ती ।
🚩ईसाई मिशनरियों की चाल तो देखिए भारत में किस किस प्रकार से हिंदुओं का धर्मान्तरित कर रहे हैं ।
🚩जागो हिन्दू !!!
🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻
🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk
🔺Facebook : https://goo.gl/immrEZ
🔺 Twitter : https://goo.gl/he8Dib
🔺 Instagram : https://goo.gl/PWhd2m
🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX
🔺Blogger : https://goo.gl/N4iSfr
🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG
🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ
   🚩🇮🇳🚩 आज़ाद भारत🚩🇮🇳🚩

No comments:

Post a Comment

गंगा दशहरा प्रारम्भ : 26 मई, समाप्त : 4 जून

मां गंगा की महिमा गंगा दशहरा प्रारम्भ : 26 मई, समाप्त : 4 जून गंगा नदी उत्तर भारतकी केवल जीवनरेखा नहीं, अपितु हिंदू धर्मका सर्वोत...