Friday, April 28, 2017

अहमदाबाद में 7 वर्ष की बच्ची के साथ मदरसा के मौलवी ने किया रेप, मीडिया ने साधी चुप्पी

अहमदाबाद में 7 वर्ष की बच्ची के साथ मदरसा के मौलवी ने किया रेप, मीडिया ने साधी चुप्पी

प्रिंट मीडिया हो या इलेक्ट्रॉनिक मीडिया हो, किसी हिन्दू साधु-संत के ऊपर आरोप लगते ही उनके खिलाफ मीडिया ट्रायल चालू कर देती है जैसे कि उनके ऊपर आरोप सिद्ध ही हो चुका हो ।
rape by maulvi

लेकिन वहीं दूसरी ओर इस्लाम धर्म के मौलवियों या ईसाई धर्म के पादरियों पर जब आरोप लगता है तो मीडिया कहीं पर भी कोई खबर प्रसारित नही करती ।

गुजरात अहमदाबाद ईसनपुर इलाके में 27 अप्रैल 2017 (गुरुवार) को मदरसे में गरीब परिवार की नाबालिग सात वर्षीय बच्ची सुबह पढ़ने गई थी, उस समय 27 वर्षीय मौलवी #महम्मद मुज्जफर हुसैन शेख बच्ची के पास आया और उसको #मदरसे के पास #बाथरूम में लेकर गया, वहाँ उसने बच्ची के साथ जबरदस्ती #बलात्कार किया, #बच्ची ने जोर-जोर से चिल्लाना चालू किया, लोग बाथरूम के पास आ गए, #मौलवी वहाँ से भाग गया।

बच्ची के माता-पिता भी #मदरसे में आ पहुँचे, बच्ची के माता-पिता ने #ईसनपुर पुलिस स्टेशन में एफ.आई.आर. लिखवाई, पुलिस ने मौलवी महम्मद हुसैन को गिरफ्तार कर लिया, अब आगे की कार्यवाही चल रही है ।

इतनी बड़ी घटना है लेकिन किसी भी #मीडिया में ये खबर नहीं चल रही है । लेकिन अगर मौलवी की जगह कोई हिन्दू धर्म के गुरु होते और उनके ऊपर कोई #झूठा आरोप भी लगा दे तो भी मीडिया दिन रात दिखाती, डिबेट बैठाती और बताती कि हिन्दू धर्म के सभी साधु-संत खराब हैं ।

अब आपके मन में प्रश्न उठता होगा कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है?

हम आपको बताते हैं कि $हिन्दू धर्म सनातन धर्म है । उसको मिटाने के लिए सदियों से दुष्ट प्रकृति के आसुरी स्वभाव के लोग पीछे पड़े हैं जैसे कि भगवान श्री रामजी के समय रावण, कुंभकर्ण आदि, भगवान श्री कृष्ण के समय कंस, कौरव आदि, छत्रपति #शिवाजी के समय मुगल और वर्तमान में ईसाई मिशनरियां और मुस्लिम धर्मान्तरण वाले,विदेशी कम्पनियां और आतंकवादी आदि आदि ।

हिन्दू धर्म जो #सनातन धर्म है, भारत की दिव्य संस्कृति है, उसको नष्ट करने के लिए, पाश्चात्य संस्कृति हमारे ऊपर थोपने के लिए विदेशी लोग पुरजोश प्रयास कर रहे हैं ।


हम आपको बता दें कि मुस्लिम धर्म की स्थापना हुए 1400 साल हुए हैं और ईसाई धर्म की स्थापना हुए 2017 साल हुए हैं, लेकिन हिन्दू धर्म तो सनातन धर्म है । जबसे पृथ्वी की उत्पत्ति हुई है तबसे ही सनातन हिन्दू धर्म है । उस पर जब विदेशी लोग कुठाराघात करते हैं, उसे बचाने के लिए हिन्दू धर्म के साधु-संत आगे आते हैं ।  इसलिए #विदेशी लोग मीडिया को हिन्दू साधु-संतों को बदनाम करने के लिए फन्ड देते हैं।

अब सवाल उठता है कि आखिर वो हिन्दू साधु-संतों को बदनाम करने के लिए इतना पैसा कहाँ से लाते होंगे और उससे उनको क्या फायदा होता होगा?

हम आपको बता देते हैं कि भारतीय संस्कृति प्राचीन संस्कृति है और उसमें सभी कार्य धर्म अनुसार किये जाते हैं ।  उसमें #दारू पीना, व्यसन करना, मांस खाना, अर्धनग्न कपड़े पहनना, फैशन करना, #बॉय फ्रेंड- गर्ल्स फ्रेंड बनाना, हत्या करना आदि हिन्दू संस्कृति में नहीं है ।

लेकिन पश्चात संस्कृति में ये सब है और वे सब भारत पर थोपना चाहते  हैं । लेकिन भारत में साधु-संत गाँव-गाँव, नगर-नगर जाकर लोगों  में जागृति लाते हैं, हिन्दू संस्कृति की महिमा बताते हैं और #भारतवासियों को #पाश्चात्य संस्कृति को अपनाने से होने वाली हानियों से अवगत करवाते हैं तो भारत के लोग दारू, बीड़ी, सिगरेट, चरस, #अफीम, चाय आदि व्यसन छोड़ देते हैं, स्वस्थ रहने के लिए घरेलू उपाय बताने पर #एलोपैथिक दवाइयां खरीदना बन्द कर देते हैं, #सिनेमा में जाना, #सेक्सवर्धक सामग्री लेना बंद कर देते हैं, मांस खाना बंद कर देते हैं, टूथपेस्ट, पफ, #पाऊडर आदि का उपयोग बंद कर देते हैं । 

 कहने का सार ये है कि भारत की करोड़ो की जनता में साधु-संतो के कारण अपने धर्म के प्रति जागृति आती है जिससे वे विदेशी सामान लेना बंद कर देते हैं और #हिन्दू #ईसाई या #मुस्लिम धर्म में परिवर्तित होने से बच जाते हैं जिससे उनको #अरबों-खबरों रूपयों का नुकसान होता है जिससे वे कुछ हजार करोड़ रुपये साधु-संतों और हिन्दू कार्यकर्ताओं को बदनाम करने में लगा देते हैं जिससे लोगों का उनके प्रति #श्रद्धाभाव नष्ट हो जाये और हिन्दू धर्म के प्रति जनता को विश्वास कम होता जाए और पाश्चात्य संस्कृति के तरफ #आकर्षित होते जाएं और उनकी विदेशी कंपनियों के सामान खरीदें और धर्मान्तरणवालों की भी दुकानें चलती रहें । इसलिए वे मीडिया को फंडिग करके साधु-संतों को बदनाम करवाते हैं।

अब हमारे पाठक समझ ही गए होंगे कि भारत में किस प्रकार का एक सुनियोजित #षड्यंत्र चल रहा है और हमारी #संस्कृति को नष्ट करने के लिए राष्ट्रविरोधी ताकतें काम कर रही हैं ।

आपने देखा होगा कि जब #साध्वी प्रज्ञा और स्वामी #असीमानंद के ऊपर आरोप लगे थे तब मीडिया ने उनके लिए कितनी खबरें चलाई थी लेकिन जैसे ही वे #निर्दोष छूटे तो एक भी खबर नहीं दिखाई ।

"यह है मीडिया का हिन्दू #साधु-संतों के विरोधी रवैया।"

विदेशी फंडिग से चलने वाली मीडिया किसी भी हिन्दू साधु-संत या कार्यकर्ताओं को बदनाम करती है तो #हिंदुस्तानी #सावधान हो जाएँ और ऐसे चैनल्स को ब्लॉक कर दें, केवल राष्ट्र हितैषी चैनल को ही देखें।

जय हिंद!!

🚩Official Azaad Bharat Links:👇🏻

🔺Youtube : https://goo.gl/XU8FPk

🔺Facebook : http://aww.su/Whsem 

🔺 Twitter : https://goo.gl/he8Dib

🔺 Instagram : https://goo.gl/PWhd2m

🔺Google+ : https://goo.gl/Nqo5IX

🔺Blogger : https://goo.gl/N4iSfr

🔺 Word Press : https://goo.gl/ayGpTG

🔺Pinterest : https://goo.gl/o4z4BJ

   🚩🇮🇳🚩 आज़ाद भारत🚩🇮🇳🚩

No comments:

Post a Comment

टीवी सीरियल में धर्म का अपमान हुआ तो सरदारों ने प्रोड्यूसर को दो दिन में झुका दिया..

सितम्बर 23, 2017  वर्तमान में #मीडिया, #बॉलीवुड, #टीवी सीरियलों द्वारा हिन्दू धर्म के #देवी-देवताओं, #धर्मगुरुओं, #हिन्दू त्यौहारों की...